You are here

Home » सावधान! चेन पुलिंग की तो जाएगी नौकरी और न बना पाएंगे पासपोर्ट
सावधान! चेन पुलिंग की तो जाएगी नौकरी और न बना पाएंगे पासपोर्ट

चेन पुलिंग के कारण रेलवे के राजस्व का नुकसान होता है। साथ ही, ट्रेनों के हजारों यात्रियों को बेवजह परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ट्रेन विलंब से चलने का खामियाजा भी यात्रियों को भुगतना पड़ता है। रेलवे एक्ट के मुताबिक चेन पुलिंग करने वालों पर 1000 रुपये तक जुर्माना अथवा एक साल की सजा या फिर दोनों का प्रावधान है। बावजूद चेन पुलिंग में कोई कमी नहीं आ रही है। इससे स्पष्ट है कि आरोपियों को जेल और जुर्माने का कोई भय नहीं है। ऐसे में ट्रेनों में चेन पुलिंग करने वालों पर रेलवे ने कठोर फैसला लिया है। 75 चेन पुलिंग के मामले आरपीएफ पोस्ट में जनवरी 2017 से अबतक कुल 75 चेन पुलिंग के मामले में गिरफ्तारी हुई है।

इसके पहले 2016 में 274 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। इस नियम के लागू होने से चेन पुलिंग करने वाले वैसे लोगों को तब परेशानी होगी जब उनका सरकारी नौकरी या पासपोर्ट के लिए चरित्र प्रमाण पत्र वेरिफिकेशन के लिए संबंधित थाने पहुंचेगा। क्या कहते हैं अधिकारी बरौनी जंक्शन के आरपीएफ इंस्पेक्टर सुनील कुमार पाण्डेय के अनुसार आरपीएफ पोस्ट के अंतर्गत जनवरी 2017 से अब तक 75 चेन पुलिंग के आरोपियों की गिरफ्तारी हुई है। गत वर्ष 2016 में 274 आरोपी पकड़े गए थे। चेन पुलिंग पर रोक लगाने के लिए विभाग द्वारा लगातार जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। बहुत हद तक अंकुश भी लगा है। बड़े अधिकारियों के निर्देश मिलते ही चेन पुलिंग के आरोपियों का ब्यौरा संबंधित थाने को भेजा जाएगा।